चम्पावत में भारी बारिस का कहर – एनएच बंद होने से सैकड़ों यात्री व वाहन फंसे ,डीएम ने लोगों से की अपील जब तक जरूरी न हो घर पर सुरक्षित रहें !

ख़बर शेयर करें

चंपावत

चंपावत जिले में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के चलते एनएच सहित लगभग 20 मार्ग बंद हुए हैं।  टनकपुर पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग स्वाला के पास क्षतिग्रस्त हुवा है जहाँ लगभग 25 मीटर सड़क बह गई है जिसे खोलने का काम चल रहा है, फिलहाल छोटे बड़े सभी वाहनों की आवाजाही बंद है। सड़क बंद होने से पहाड़ को आने वाले सैकड़ों यात्री टनकपुर में फंस गए हैं ,जिनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं फंसे हुए यात्रियों ने रोडवेज से वाया हल्द्वानी होते हुए उन्हें लोहाघाट व चंपावत पहुंचाने की मांग की है । टनकपुर में फंसे हुए यात्रियों में आईटीबीपी के जवान भी शामिल हैं लोहाघाट में बड़ी संख्या में पंजाब से आए सिख तीर्थयात्री भी फंसे हुए हैं ।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर- शासन से मिली अनुमति, पुलिस भर्ती घोटाले में अब दर्ज होंगे मुकदमे

रोडवेज अधिकारियों के मुताबिक लोहाघाट डिपो कल सुबह से वाया हल्द्वानी बसों का संचालन शुरू करेगा। जिले में हो रही भारी बारिश को देखते हुए जिलाधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी ने जिले के सभी अधिकारियों के साथ बैठक कर सभी अधिकारियों को अलर्ट मोड में रहने के निर्देश दिए हैं । चम्पावत जिले के विभिन्न स्थानों चलथी, मूडयानी और पुल्ला में पेड़ो के गिरने से विद्युत लाइनें भी क्षतिग्रस्त हुई हैं  जिनकी मरम्मत का काम जारी है।

यह भी पढ़ें 👉  Big breaking- रेड अलर्ट के बाद कई जिलों में आज स्कूल बंद, जिला प्रशासन अलर्ट

जिलाधिकारी नरेन्द्र सिंह भंडारी ने जनपद के सभी लोगों से अपील की है कि कोई भी व्यक्ति अनावश्यक यात्रा करने से बचें। टनकपुर-चंपावत आवाजाही हेतु वैकल्पिक मार्गो का प्रयोग करें। उन्होंने सभी लोगों से अपील की है कि सुरक्षा की दृष्टि से सभी अपने घरों में ही रहें। उन्होंने अपील की है कि यदि आपके घर के आसपास यदि किसी पहाड़ी, चट्टान से भूस्खलन हो रहा हो या होने की संभावना हो तो तुरंत ही पड़ोस में किसी अन्य घर में शरण लें और आपदा संभावित क्षेत्र में न जाए। आपदा संबंधित सूचना से आपदा कंट्रोल रूम के नंबर 05965230819 या प्रशासन को इससे अवगत कराएं। जिससे कि किसी भी प्रकार की अनहोनी से बचा जा सकें।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments