Big breaking- द्रौपदी का डांडा-2 में अभी भी तीन पर्वतारोही लापता, खराब मौसम बना रेस्क्यू में बाधा

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड/उत्तरकाशी

नेहरू पर्वतारोहण संस्थान, उत्तरकाशी द्वारा जनपद के डोकरानी बामक हिमनद में संचालित एडवान्स पर्वतारोहण कोर्स के 29 प्रतिभागी द्रौपदी का डांडा-2 (5670 मी0) के आरोहण के समय हिम-स्खलन की चपेट में आ जाने के कारण समुद्र तल से लगभग 5200 मीटर ऊपर स्थित दरारों में फस गये थे।
घटना की जानकारी मिलते ही भारतीय वायु सेना, थल सेना व भारत तिब्बत सीमा पुलिस के साथ ही गुलमर्ग, कश्मीर स्थित सेना के Warfare स्कूल (HAWS) का सहयोग लिया गया तथा राज्य आपदा प्रतिवादन बल के खोज एवं बचाव दल को प्रभावित क्षेत्र में भेजा गया। 7 अक्टूबर, 2022 को बचाव दलों के द्वारा 29 लापता व्यक्तियों में से 26 के शव बरामद कर लिये गये हैं जबकि 03 लोग अभी भी लापता हैं। कल बरामद चार लोगों के शवों को अंतिम संस्कार हेतु उनके परिजनों को सौंपा जा चुका है। अन्य व्यक्तियों की पहचान नहीं की जा सकी है। मौसम खराब होने के कारण हेलीकॉप्टर प्रचालन बाधित हो गया था प्रभावित क्षेत्र में खोज एवं बचाव कार्य किया जा रहा है।

वर्तमान तक उक्त घटना में प्रभावित व्यक्तियों का विवरण निम्नवत् है

यह भी पढ़ें 👉  सड़क दुर्घटना- सतपुली के पास गहरी खाई में गिरी कार, दो महिलाओं की मौके पर ही मौत 4 घायल

1- कुल व्यक्ति – 61
2- सुरक्षित व्यक्ति – 32
3- मृत व्यक्ति – 26
4- लापता व्यक्ति – 03

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments