रामनगर सीट से पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के चुनाव मैदान में आने से रणजीत रावत की उम्मीदों को लगा झटका

ख़बर शेयर करें

रामनगर

 रामनगर विधानसभा सीट से पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का टिकट फाइनल होने के बाद से ही कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष व रामनगर से उम्मीदवारी कर रहे रणजीत सिंह रावत के निवास पर कूच करना शुरू कर दिया , वही आज सुबह प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष रणजीत सिंह रावत से बातचीत की जिसमें उन्होंने कहा कि कांग्रेस हाईकमान ने किन परिस्थितियों में यह निर्णय लिया है यह सोच से परे है , उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति पिछले 5 सालों से 1 विधानसभा क्षेत्र में मेहनत करता है कार्य करता है चाहे कोरोना का समय हो, चाहे आपदा का समय हो, हमने पूरी रामनगर विधानसभा में लोगों के घरों घरों पर जाकर मेहनत की है और अंतिम में परिणाम स्वरूप किसी और को टिकट दे दिया जाता है , उन्होंने कहा कि पहले पार्टी ने ही सल्ट से मुझे रामनगर में मेहनत करने के लिए कहा था और जिन लोगों ने कहा था आज वही सर्वे सर्वा रामनगर विधानसभा में चुनाव लड़ने के लिए आ रहे हैं और आज ये ही कह रहे हैं कि आप सल्ट जाओ, उन्होंने कहा कि यह रामनगर में ही नहीं कई अन्य सीटों पर देखने को मिल रहा है और मैं भी हतप्रद हूँ, कि उन लोगों को इधर से उधर किया गया है.हमारे द्वारा पूछे जाने पर कि सल्ट की सीट अभी होल्ड पर है तो आगे क्या वह सल्ट से लड़ेंगे तो उन्होंने कहा कि वह अपने सहयोगी व कार्यकर्ताओं के साथ बैठकर विचार विमर्श कर रहे हैं और आज देर शाम तक इस पर भी निर्णय ले लेंगे कि कहा से चुनाव लड़ना है या फिर सल्ट जाना है , बता दें कि ऐसी भी खबर चल रही है कि सल्ट से रणजीत सिंह रावत निर्दलीय अपने पुत्र विक्रम सिंह रावत को भी मैदान में उतार सकते हैं और रामनगर से वह खुद मैदान में उतर सकते हैं , अब ये आने वाला समय बताएगा देर रात तक वह इस पर भी घोषणा कर देंगे कि वह कहां से चुनाव लड़ने वाले हैं और क्या निर्णय ले रहे है ।

 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments