कोरोना पीड़ितों की राहत सामग्री कमरे में बंद मिली , सियासत तेज !

ख़बर शेयर करें

यमकेश्वर विधानसभा के स्वर्ग आश्रम क्षेत्र में पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस के अंदर कई महीनों से बंद पड़े एक कमरे का ताला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने तोडा तो कमरे के अंदर कोविड-19 के दौरान पीड़ितों के लिए लाई गई राहत सामग्री मिली , कांग्रेस ने विधायक प्रतिनिधि पर सामग्री जरूरतमंदों को नहीं बांट कर कमरे में छिपाने का आरोप लगाया है।
कांग्रेस के पूर्व विधायक शैलेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ता एकत्रित होकर पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस पहुंचे , कार्यकर्ताओं ने गेस्ट हाउस के एक कमरे में लगे ताले को तोड़ दिया , कमरे के अंदर एक संस्था के नाम से लिखें हैंड सैनिटाइजर , मास्क व कंबल सैकड़ों की संख्या में रखे हुए थे , मौके पर शैलेंद्र सिंह रावत ने कहा कि विधायक के एक प्रतिनिधि ने कोविड-19 के दौरान जरूरतमंदों को राहत सामग्री उपलब्ध न करा कर कमरे में छिपा दी ,

शैलेन्द्र रावत ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार में Pwd ऑफिस लक्ष्मण झूला में सड़ रही श्रमबोर्ड की सामग्री को कोरोना काल मे गरीबों में बांटा जाना था लेकिन राहत कोष की तरह इस सामान को भी विधायक यमकेश्वर ने गरिबों का हक़ मारकर सड़ा दिया , करीब एक साल से विधायक यमकेश्वर के कार्यकर्ताओं का कब्जा इस PWD गेस्ट हाउस पर बना हुवा है और यह सामान भी एक साल से यहां पड़ा हुवा है अब इस सामान को गरीबों में न बाँटा जाए क्योंकि सारा सामान एक्सपायरी हो चुका है और यह करोड़ों का घोटाला है ।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments