किच्छा में राज्य स्थापना दिवस पर आयोजित सम्मान समारोह में जमकर हुई नोकझोंक ,कॉंग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष को दिखाया बाहर का रास्ता

ख़बर शेयर करें

उधम सिंह नगर

उधम सिंह नगर के किच्छा में उत्तराखंड स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में भाजपा विधायक राजेश शुक्ला और कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष नारायण सिंह बिष्ट के बीच में जम कर नोक झोक हुई  ,वहा मौजूद अधिकारियो ने जैसे तैसे दोनों को समझाकर मामले को शांत किया ।

उत्तराखंड राज्य स्थापना दिवस का कार्यक्रम उधम सिंह नगर के किच्छा के लिए राजनीतिक नोकझोक का अखाड़ा बन गया ,दरअसल उत्तराखंड राज्य स्थापना दिवस के मौके पर प्रसाशन ने उत्तराखंड राज्य आन्दोलन कारियों को सम्मानित करने का कार्यक्रम रखा था , जिसमे किच्छा विधायक राजेश शुक्ला बतौर मुख्य अतिथि मौजूद थे ,जैसे ही आन्दोलन कारियों को सम्मानित करने की बात आई तो कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष और राज्य आन्दोलनकारी नारायण सिंह बिष्ट ने उनसे सम्मान लेने पर ऐतराज़ जता दिया , जिसको लेकर वहा अच्छा ख़ासा बखेड़ा खड़ा हो गया , नारायण सिंह बिष्ट ने कहा की जिस समय हम लोग उत्तराखंड बनाने के लिए लड़ाई लड़ रहे थे उस वक़्त राजेश शुक्ला उत्तराखंड न बनाये जाने की पक्षधार थे इसलिए ऐसे ब्यक्ति से वो सम्मान नहीं ले सकते जो उत्तराखंड विरोधी रहा हो ।

यह भी पढ़ें 👉  क्षेत्रीय लोक संपर्क ब्यूरो ने आयोजित किया आजादी का "अमृत महोत्सव" को लेकर जन जागरूकता कार्यक्रम !

नारायण सिंह बिष्ट प्रसाशन ने नाराज़ होकर कार्यक्रम का बहिस्कार करके चले तो गए लेकिन  वहां मौजूद कुछ लोगो ने इस बात पर ऐतराज़ जताया , मौके पर मौजूद अधिकारियो ने जैसे तैसे मामले को शांत करवाया और कार्यक्रम को आगे बढाया ।

यह भी पढ़ें 👉  क्षेत्रीय लोक संपर्क ब्यूरो ने आयोजित किया आजादी का "अमृत महोत्सव" को लेकर जन जागरूकता कार्यक्रम !

वहीं बीजेपी विधायक राजेश शुक्ला ने नारायण सिंह बिष्ट पर पलटवार करते हुए कहा की अगर वो उत्तराखंड विरोधी है तो कैसे वो बार बार किच्छा में जीत कर विधायक बन रहे है , उन्होंने पिछली बार कांग्रेस के मुख्यमंत्री हरीश रावत को हराया है , इसलिए नारायण सिंह बिष्ट को बोलने से पहले सोचना चाहिए ।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments