नैनीताल सीईओ ने की कड़ी कारवाही , पुस्तक वितरण में हुई लापरवाही पर प्रिंसिपल और संकुल प्रभारी निलंबित

ख़बर शेयर करें

नैनीताल

 

ओखलकांडा क्षेत्र में मुख्य शिक्षा अधिकारी ने किताबें बांटे जाने पर हुई लापरवाही पर एक स्कूल के प्रधानाचार्य और संकुल प्रभारी को निलंबित कर दिया है , जबकि एक शिक्षिका के अनुपस्थित मिलने पर उसका वेतन रोकने के आदेश दिए गए हैं । मामला औखलकांडा ब्लॉक का है जहां सीईओ नैनीताल ने स्कूलों का औचक निरीक्षण किया था ,जहां स्कूलों में पाठ्य पुस्तकों का वितरण ठीक से नहीं हो पाया है ,इससे पहले 9 जून को आयोजित शिक्षा विभाग की बैठक में सभी खंडशिक्षा अधिकारियों और संकुल प्रभारियों को पाठ्य पुस्तकों के वितरण को पूरी जिम्मेदारी से किए जाने की बात कही गई थी , लेकिन लापरवाह शिक्षक और प्रिंसिपल अपने अधिकारियों की बातों को नजरअंदाज करते रहे और लापरवाह बने रहे , जिसके चलते अब प्रिंसिपल और संकुल प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है , और एक शिक्षिका का वेतन भी रोक दिया गया है । छात्रों के प्रति टीचरों की इस लापरवाही के बाद शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों ने आनन-फानन में 27 जून को खण्ड शिक्षा अधिकारियों , उप शिक्षा अधिकारियों और संकुल प्रभारियों को सीईओ ऑफिस में तलब किया गया है ।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments