देहरादून- युवा प्रदेश उत्तराखंड को संवार रहे युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड/देहरादून

 

उत्तराखंड राज्य का गठन किस अवधारणा से किया गया था उस को आगे बढ़ाने का काम युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी लगातार कर रहे हैं.. उत्तराखंड छोटा प्रदेश है जिसमें 13 जिले हैं, उत्तराखंड राज्य की आर्थिकी का प्रमुख जरिया पर्यटन है जिसको देखते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी नहीं पर्यटन गतिविधियों को नया आयाम देने की कोशिश की है,

होम स्टे योजना बनी रोजगार का नया जरिया

राज्य में पहली बार ऐसा देखने को मिल रहा है कि पर्यटन सुविधाओं में इजाफा हो रहा है, कुमाऊँ मंडल विकास निगम हो या गढ़वाल मंडल विकास निगम में सुविधाएं बेहतर की जा रही हैं, पर्यटन स्थलों में नए रिजॉर्ट और होटल उत्तराखंड की संस्कृति को दर्शाते हुए बने हैं, 2 साल कोरोना में बीत जाने के बाद जो लोग रोजगार छोड़कर बाहर से उत्तराखंड लौटे उनके लिए होम स्टे योजना नए रोजगार का जरिया बन रही है, रामगढ़, मुक्तेश्वर, गागर,और पंगोट जैसे पर्यटक स्थलों में पर्यटन सीजन में करीब 3 से चार लाख पर्यटक पहुंचे,

चार धाम यात्रा ने भी तोड़ा रिकॉर्ड

केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद हो चुके हैं, इस बार तकरीबन 15 लाख 61 हजार श्रद्धालुओं ने बाबा केदार के दर्शन किए, बदरीनाथ धाम में करीब 15 लाख 20 हजार श्रद्धालु, यमुनोत्री धाम में 4 लाख 75 लाख श्रद्धालु, गंगोत्री धाम में तकरीबन 6 लाख से ज्यादा श्रद्धालु और हेमकुंड साहिब में 2 लाख से ज्यादा श्रद्धालु आ चुके हैं, कुल मिलाकर अभी तक चारों धामों में आने वाले श्रद्धालुओं का आंकड़ा 25 अक्टूबर तक 45 लाख 56 हजार 634 को पार कर चुका है, बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि 19 नवंबर तय की गई है जिसके चलते चार धाम में आने वाले श्रद्धालुओं का आंकड़ा भी और बढ़ा हुआ दिखाई देगा,

यह भी पढ़ें 👉  सड़क दुर्घटना- सतपुली के पास गहरी खाई में गिरी कार, दो महिलाओं की मौके पर ही मौत 4 घायल

पीएम मोदी के बद्री केदार आने से बढ़ा लोगों का उत्साह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दौरा कर विकास कार्यों की समीक्षा भी कर रहे हैं, पीएम के केदारनाथ में हो रहे दौरे से भी यात्रियों और स्थानीय लोगों में उत्साह बढ़ा हुआ है. इससे हर साल यात्रियों की संख्या चारों धामों में बढ़ रही है और चारों धामों के प्रति यात्रियों का लगाव भी लगातार बढ़ रहा है,

प्रदेश की कनेक्टिविटी भी हुई बेहतर

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने समय-समय पर चारों धाम, उत्तराखंड के पर्यटक स्थलों और कनेक्टिविटी की समीक्षा भी की है, जिसका परिणाम यह है कि कुमाऊं में तीर्थाटन को बढ़ाने के लिए मानस खंड कोरिडोर बनाए जा रहा है, प्रदेश का लगभग हर गांव सड़क मार्ग से जुड़ गया है, प्रदेश में 31 अक्टूबर तक सभी सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के आदेश दिए गए हैं, इसके अलावा प्रदेश में जिन सड़कों का डामरीकरण होना है या जो सड़कें खस्ताहाल पड़ी है उनका निर्माण कार्य होना है उसको जल्द से जल्द पूरा करने के भी विभागीय अधिकारियों को दिशा निर्देश जारी किए गए हैं, सबसे बड़ी उपलब्धि तो यह है कि दिल्ली से देहरादून तक नया हाईवे बन रहा है जिससे आने वाले दिनों में लोग 2 से 3 घंटे में देहरादून से दिल्ली का सफर तय कर लेंगे, इसके इसके अलावा ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाइन तैयार हो रही है जिससे चार धाम यात्रा में और भी आसानी हो जाएगी,

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग न्यूज- LPG सिलेंडर लीक होने से घर में लगी आग, बुजुर्ग महिला की जलने से मौत

कॉर्बेट पार्क और राजाजी पार्क में भी बड़ी सैलानियों की तादात

कॉर्बेट पार्क में बिजरानी जोन पर्यटकों के लिए 15 अक्टूबर से खुल चुका है जो 30 जून तक खुला रहेगा, इसके अलावा झिरना, ढेला और पाखरो जोन पर्यटकों के लिए साल भर खुला रहेगा, जबकि ढिकाला, सोना नदी और दुर्गा देवी जून 15 नवंबर से 14 जून तक पर्यटकों के लिए खुला रहेगा, कॉर्बेट टाइगर रिजर्व में अप्रैल 2022 से सितंबर 2022 तक 1,59,712 पर्यटकों ने दीदार किया जिसमें 1092 विदेशी पर्यटक शामिल थे,

शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं को भी बेहतर बनाने का संकल्प

उत्तराखंड में शिक्षा, स्वास्थ्य की बदहाली किसी से छुपी नहीं है लेकिन मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश में कई नए अटल आदर्श विद्यालयबनाने की घोषणा की है, इसके अलावा खेल को बढ़ावा दिया जा रहा है, प्रदेश में कई कई खेल विद्यालय में चल रहे हैं, प्रदेश में खेल महाकुंभ के जरिए खेलों में रुचि रखने वाले प्रतिभाओं को निखारने और तलाशने का प्रयास किया जा रहा है, स्वास्थ्य सेवाओं को देखते हुए कई अस्पताल पीपीपी मोड पर चलाए जा रहे हैं, चंपावत में हेल्थ एटीएम लगाया गया है, किसी दुर्घटना में गंभीर मरीज को इलाज देने के लिए यह एंबुलेंस की सुविधा की गई है,

बिजली आपूर्ति भी पहले से हुई बेहतर

उत्तराखंड को ऊर्जा प्रदेश का नाम भी दिया गया है, उत्तराखंड में ऐसे तमाम प्रोजेक्ट भी है जहां से बिजली का उत्पादन होता आया है या हो सकता है, उत्तराखंड जैसे छोटे प्रदेश को 24 घंटे बिजली की जरूरत इसलिए भी है क्योंकि यहां रुद्रपुर हरिद्वार और कोटद्वार में सिडकुल भी स्थापित किया गया है जहां तमाम फैक्ट्रियां उत्तराखंड के युवाओं को रोजगार देने का भी काम कर रही हैं, सरकार ने पहले की अपेक्षा बिजली उत्पादन बढ़ाया है ताकि पावर कट कम हो सके और फैक्ट्रियों को 24 घंटे बिजली मिल सके,

यह भी पढ़ें 👉  STF के हत्थे चढ़ा शातिर ठग, लोगों से पैसे ठग कर पिछले पांच साल से था लापता

एचएमटी की 46 एकड़ जमीन भी उत्तराखंड को हस्तांतरित

सीएम पुष्कर सिंह धामी सरकार के लगातार प्रयासों के बाद केंद्र सरकार ने उत्तराखंड सरकार को हल्द्वानी स्थित एचएमटी रानी बाग की 46 एकड़ जमीन हस्तांतरित कर दी है, सरकार की योजना इस जमीन पर मिनी सिडकुल बनाने की है, सीएम पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री महेंद्र नाथ पांडे के साथ बैठक कर एचएमटी की 46 एकड़ जमीन को उत्तराखंड सरकार को हस्तांतरित करने का अनुरोध किया था,

UKSSSC पेपर लीक क़े दोषियों को किया सलाखों के पीछे

uksssc पेपर लीक घोटाले मामले में सीएम ने सख्ती दिखाई और 41 आरोपियों गिरफ्तारी हुई, मुख्यमंत्री ने घोटाले की जांच निष्पक्ष रूप से कराने के लिए एसआईटी को सौंपी थी, वही अंकिता हत्याकांड में भी मुख्यमंत्री ने मामले की जांच एसआईटी को सौंपी है, उन्होंने कहा है कि दोषी कितना भी बड़ा रसूखदार उसे किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा..

उत्तराखंड की धामी सरकार अभी जिस तरीके से काम कर रही है उससे लग रहा है कि आने वाले दिनों में पर्यटन व्यवसाई को एक नया आयाम मिलेगा जिससे पर्यटन वेबसाइट बढ़ेगा और राज्य की आर्थिकी मजबूत होगी, इसके अलावा शिक्षा स्वास्थ्य बिजली और पेयजल सुविधाओं के लिए भी सरकार बेहतर काम करने का प्रयास कर रही है जिससे उत्तराखंड को मजबूत और बेहतर दिशा दी जा सके।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments