आखिर कहाँ है मित्र पुलिस ?

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी केमू स्टेशन में बस के अंदर बैठी महिला का मंगलसूत्र झपट कर फरार हुए आरोपी तक पुलिस अभी तक नहीं पहुंच पाई है लेकिन दिन दहाड़े घटी इस घटना से पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान जरूर खड़े हुए हैं ,अधिकारियों के यह तमाम दावे भी खोखले साबित हुए कि हैं कि उत्तराखंड पुलिस आपकी मित्र पुलिस है ,आखिर मित्र पुलिस की कार्यप्रणाली पर लगातार सवाल क्यों खड़े हो रहे हैं ? पिछले 1 महीने की बात की जाए तो सिर्फ हल्द्वानी में 20 से अधिक टप्पेबाजी और चोरी की घटनाएं हुई हैं ,इन घटनाओं के बाद लोगों के अंदर डर का माहौल है कि कहीं राह चलते उनके साथ भी कोई अनहोनी न हो जाय ,आखिर पुलिस इतनी सुस्त क्यों पड़ गई है अभी कुछ दिन पहले ही तो जिले की कप्तान ने अपराध बैठक लेकर जिले के पुलिस अधिकारियों को अपराधियों से सख्ती से निपटने और आम जनता के साथ कैसे सामंजस्य स्थापित किया जाय इसके लिए मोटिवेट भी किया था , कई पुलिसकर्मियों को सराहनीय कार्य के लिए प्रशस्ति पत्र भी बांटे गए थे । हालांकि पुलिस के आला अधिकारियों ने बीते दिनों हुई इन घटनाओं का जल्द खुलासा करने और आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की बात कही है ।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments